Wednesday, April 17, 2024
HomeChhattisgarhओपीजेयू में 15 मार्च से दो...

ओपीजेयू में 15 मार्च से दो दिवसीय ‘इंडस्ट्री-एकेडमिया कॉन्क्लेव’ और ‘नेशनल इनोवेशन फेस्ट’ का संयुक्त आयोजन

Banner Advertising
Banner Advertising


(‘इंडस्ट्री-एकेडमिया कॉन्क्लेव’ में देश भर से शीर्ष कंपनियों के प्रमुखों और शिक्षाविदों के बीच होगी ‘ कल्टिवेटिंग क्यूरिऑसिटी: नर्चरिंग इनोवेशन थ्रू कोलैबोरेटिव एजुकेशन एंड इंडस्ट्री’ विषय पर गहन चर्चा; साथ ही साथ 15 राज्यों और 3 केंद्र शासित प्रदेशों के 500 से अधिक इनोवेटर्स और उद्यमी करेंगे अपने अभूतपूर्व विचारों, प्रोटोटाइप और स्टार्टअप का प्रदर्शन )

रायगढ़। ओपी जिंदल विश्वविद्यालय, रायगढ़ द्वारा ‘कल्टिवेटिंग क्यूरिऑसिटी: नर्चरिंग इनोवेशन थ्रू कोलैबोरेटिव एजुकेशन एंड इंडस्ट्री’ विषय पर पांचवें दो-दिवसीय ‘इंडस्ट्री-एकेडमिया कॉन्क्लेव’ एवं तृतीय ‘नेशनल इनोवेशन फेस्ट’ का आयोजन मार्च 15-16, 2024 के दौरान विश्वविद्यालय परिसर में किया जा रहा है। इंस्टीट्यूशनल इनोवेशन काउंसिल-आईआईसी (शिक्षा मंत्रालय की एक पहल), आईईईई इंडस्ट्री रिलेशन कमेटी, एसोसिएशन ऑफ वेल्डिंग प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (एडब्ल्यूपीएम), इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ वेल्डिंग (आईआईडब्ल्यू) कोलकाता, सीआईआई बायोमास इंडस्ट्री एसोसिएशन और अन्य संगठनो के सहयोग से आयोजित इस कॉन्क्लेव में भारत की शीर्ष कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारीगण, प्रतिनिधि, उच्च-शिक्षा से सम्बद्ध विद्वानगण, इंजीनियरिंग और प्रबंधन के छात्र, बड़ी संख्या में भाग ले रहे हैं।

विभिन्न उद्योगों और शिक्षाजगत के 30 से अधिक प्रमुख वक्ता‘‘कल्टिवेटिंग क्यूरिऑसिटी: नर्चरिंग इन ओवेशन थ्रू कोलैबोरेटिव एजुकेशन एंड इंडस्ट्री’विषय पर व्याख्यान देंगे और प्लीनरी सेशंस के दौरान सक्रिय रूप से चर्चा करेंगे। इस कॉन्क्लेव के साथ ही साथ विश्वविद्यालय का प्रतिष्ठित कार्यक्रम ‘नेशनल इनोवेशन फेस्ट 3.0’ भी आयोजित किया जा रहा है, जिसमें जेएसपी फाउंडेशन और नेशनल ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट (एनएचआरडी) के सहयोग से विचार, प्रोटोटाइप और स्टार्ट-अप पिच कार्यक्रमों में विश्वविद्यालय के बाहर से 500 से अधिक प्रतिभागी शामिल होंगे।

ओपी जिंदल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ आर डी पाटीदार ने बताया कि एक ओर जहाँ कॉन्क्लेव का उद्देश्य उद्योग की आवश्यकताओं और अकादमिक समुदायों के बीच अंतर को पाटना, विचार विनिमय के लिए एक साझा मंच स्थापित करना और बेहतर सहयोग को बढ़ावा देना है वहीँ ‘नेशनल इनोवेशन फेस्ट’ का उद्देश्य नवप्रवर्तकों को केस स्टडी, मोबाइल ऐप, पोस्टर प्रस्तुतियों में भाग लेने का अवसर प्रदान करना तथा अपने उत्पादों को प्रदर्शित करने के लिए एक मंच प्रदान करना है। दोनों कार्यक्रमों को एक साथ करने का कारण वास्तविक रूप से अकादमिक को उद्योग से जोड़ना है।

दो दिनों के दौरान, प्रतिभागियों को समसामयिक उद्योग की जरूरतों को समझने के लिए संवाद और विचार-विमर्श में शामिल होने, पाठ्यक्रम को तैयार करने के लिए उद्योग से इनपुट मांगने, छात्रों को उद्योग के लिए आवश्यक कौशल की अंतर्दृष्टि से तैयार करने और इंटर्नशिप के माध्यम से दीर्घकालिक जुड़ाव की सुविधा प्रदान करने का अवसर मिलेगा। इस कार्यक्रम में विभिन्न उद्योगों के प्रतिनिधि एवं भागीदारों के विचार प्रस्तुत होंगे और अकादमिक, उद्योग एवं विकसित भारत बनाने के प्रयासों आदि ज्वलंत मुद्दों पर कई पैनल चर्चाएं भी आयोजित की जाएंगी।

ओपी जिंदल विश्वविद्यालय में स्थापित ‘ओपीजेयू इनोवेशन सेंटर’ और आईआईसी की पहल ‘नेशनल इनोवेशन फेस्ट’ में भारत के 15 राज्यों और 3 केंद्र शासित प्रदेशों के 500 से अधिक इनोवेटर्स और उद्यमी एक साथ एक मंच पर उपस्थित होंगे; जो अपने अभूतपूर्व विचारों, प्रोटोटाइप और स्टार्टअप का प्रदर्शन करेंगे। प्रतिभागियों को 3 लाख रुपये की पुरस्कार राशि सुरक्षित करने के अवसर के साथ, प्रतिष्ठित ओआईसी में इन्क्यूबेशन की संभावना के साथ-साथ उत्सुक निवेशकों से निवेश के अवसरों के लिए भी प्रतिस्पर्धा करने का अवसर मिलेगा।

15 मार्च की सुबह इस कार्यक्रम का उद्घाटन विश्विद्यालय के सभागार में होगा जिसमे सम्पूर्ण भारत से शीर्ष कंपनियों, संस्थानों, संकाय सदस्यों और छात्रों के प्रतिष्ठित पेशेवर भाग लेंगे। विश्वविद्यालय की चांसलर श्रीमती शालू जिंदल ने कार्यक्रम के आयोजन के लिए आयोजकों को बधाई देते हुए कार्यक्रम की सफलता के लिए शुभकामनाएं प्रेषित किया है।

कॉन्क्लेव में शामिल होने वाले कुछ प्रमुख संस्थानों और कंपनियों में सीएसआईआर-सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टीट्यूट, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, नई दिल्ली, फ्रोनियस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, जिंदल पावर लिमिटेड, पंजाब रिन्यूएबल एनर्जी सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड (पीआरईएसपीएल), कंफेडरेशन ऑफ बायोमास एनर्जी इंडस्ट्री ऑफ इंडिया, टाटा स्टील, कृषिकल्प फाउंडेशन, विक्रम सोलर लिमिटेड, एबस्ट्रैट पार्टनर्स, वी फाउंडर सर्कल, वेदांता लिमिटेड – एल्युमीनियम बिजनेस, जिंदल साउथ वेस्ट (जेएसडब्ल्यू), सी4आई4 लैब, ईवाई, जिंदल स्टील एंड पावर, टीआरएल क्रोसाकी रेफ्रेक्ट्रीज लिमिटेड, संज्ञा पीआर, व्हाइट वॉल्स मीडिया, आईआईटी भिलाई इनोवेशन एंड टेक्नोलॉजी फाउंडेशन, श्रीराम फाइनेंस, डीसीपीपी जिंदल स्टील एंड पावर, प्राइसवाटरहाउसकूपर्स, मेयट्री स्कूल, एनटीपीसी, टीयूआरएमएस इंटेलिजेंट अपैरल्स, शापूरजी पालोनजी इंजीनियरिंग एंड कंस्ट्रक्शन और सूची में विभिन्न उद्योगों के लगभग 30+ प्रमुख वक्ता शामिल हैं।

NewsVibe
NewsVibehttps://newsvibe.in/
NewsVibe.in - Latest Hindi news site for politics, business, sports, entertainment, and more. Stay informed with News Vibe.
RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular