Thursday, June 13, 2024
Homeब्रेकिंग न्यूजED Raid Breaking : एक आईएएस...

ED Raid Breaking : एक आईएएस अधिकारी के ठिकानों समेत 25 जगहों पर ईडी की दबिश

Banner Advertising
Banner Advertising

Rajasthan News : राजस्थान में इसी महीने 25 नवंबर को विधानसभा के लिए मतदान होने हैं। इसके पहले ही राज्य के अलग-अलग जगहों पर प्रवर्तन निदेशाल (ED Raid Breaking) छापेमारी कर रहा है। प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने राजस्थान में 25 ठिकानों पर दबिश दी है। इसकी जानकारी सूत्रों से मिली है।

सूत्रों के मुताबिक, राजस्थान में हो रही ये छापेमारी एक आईएएस अधिकारी के ठिकानों समेत कुल 25 जगहों पर चल रही है। ईडी (ED Raid Breaking) की ये कार्रवाई जल जीवन मिशन घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के केस में हो रही है। राजस्थान में पिछले कुछ हफ्तों में कई जगहों पर छापेमारी की गई है। राजधानी जयपुर से लेकर कई प्रमुख शहरों में ईडी ने रेड मारी है।

जांच एजेंसी की ये कार्रवाई अवैध सुरक्षा हासिल करने, टेंडर हासिल करने, अवैध बिलों को मंजूरी देने और कॉन्ट्रैक्ट से जुड़े अनियमितताओं को छिपाने को लेकर की जा रही है। राजस्थान की एंटी करप्शन ब्यूरों (एसीबी) की तरफ से पदमचंद जैन सहित निजी ठेकेदारों और अन्य के खिलाफ अवैध सुरक्षा हासिल करने, टेंडर हासिल करने, बिलों को मंजूरी देने और कॉन्ट्रैक्ट से जुड़े अनियमितताओं को छिपाने के लिए अधिकारियों को रिश्वत देने के आरोप में मामला दर्ज किया जा चुका है।

इन सभी पर सार्वजनिक स्वास्थ्य और इंजीनियरिंग विभाग (पीएचईडी) के अधिकारियों को रिश्वत देने का आरोप है। उसके बाद से ही जल जीवन मिशन से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने अपनी जांच की शुरुआत की है।

राजस्थान बीजेपी के दिग्गज नेता किरोड़ी लाल मीणा ने इसी साल जून के महीने में आरोप लगाया था कि जल जीवन मिशन लागू करने के नाम पर 20 हजार करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है। मीणा ने ये भी आरोप लगाए थे कि 48 प्रोजेक्ट्स में फर्जी एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट्स के आधार पर दो कंपनियों को 900 करोड़ रुपये के टेंडर जारी किए गए हैं।

किरोणी लाल मीणा ने कहा था, ‘केंद्र सरकार के जल जीवन मिशन के तहत 2000 करोड़ रुपये का घोटाला किया गया है। ये सब पीएचईडी मंत्री और विभाग के सचिव के जरिए मिलकर किया गया है।’ जानकारी के लिए बता दें कि, इस मिशन से केंद्र सरकार राजस्थानवासियों के घर-घर तक पीने के जल पहुंचाने वाली है। जिसका जिम्मा राजस्थान के पीएचईडी विभाग के पास है।

जांच एजेंसी (ED Raid Breaking) ने बीते महीने सितंबर में जल जीवन मिशन से जुड़े संदिग्धों के कई बैंक लॉकरों की तलाशी ली थी। इस दौरान ईडी ने 5.86 करोड़ रुपये का सोना और चांदी बरामद की थी। ईडी को कुल मिलाकर 9.6 किलो सोना और 6.3 किलो चांदी छापेमारी में मिली थी।

NewsVibe
NewsVibehttps://newsvibe.in/
NewsVibe.in - Latest Hindi news site for politics, business, sports, entertainment, and more. Stay informed with News Vibe.
RELATED ARTICLES
spot_img

Most Popular